Quranic
1-0
अल्लाह के नाम से जो रहमान व रहीम है।
1-1
तारीफ़ अल्लाह ही के लिये है जो तमाम क़ायनात का रब है।
20


1-2
रहमान और रहीम है।
0


1-3
रोज़े जज़ा का मालिक है।
4


1-4
हम तेरी ही इबादत करते हैं, और तुझ ही से मदद मांगते है।
4


1-5
हमें सीधा रास्ता दिखा।
0


1-6
उन लोगों का रास्ता जिन पर तूने इनाम फ़रमाया, जो माअतूब नहीं हुए, जो भटके हुए नहीं है।
2